सुबह लेट उठने के नुक्सान | Why You should WakeUp Early Morning

 सुबह जल्दी उठाना कितना जरुरी होता है ये तो अपने अपने घर में माता पिता से सुना ही होगा और लेट उठने के उपर घर में कभी कभी मन मुटाव हो जाता है | पर इसके वाकई में ज्यादा सोने के क्या नुकसान उसके बारे में इस इस पोस्ट में हम बात करेंगे | 



सुबह लेट उठने के नुक्सान

दिन की शुरुआत सुबह से होती है अगर हमारी सुबह ही आलास भरी होती और और लेट होगी तो इसका गलत प्रभाव हमारे जीवन पर भी पड़ेगा | आइये जानते है 

 1. शुरुआत लेट - आप लेट 

अगर आप कोई काम की लेट शुरुआत करोगे तो उस काम को ख़त्म करने में भी आपको काफी लेट हो जायेगा और कुछ कार्य तो ऐसे होते है जिनकी शुरुआत लेट नही कर सकते 
मान लीजिये आपको कहीं ट्रेन से जाता है तो आप 1 मिनट भी लेट हुए तो वो काम आपका बिगड़ ही जायेगा और ट्रेन निकल जाएगी 
यकीन मानिये एक दिन लेट उठने से काफी कार्य लेट हो जाते है और उन कार्यों को सिर्फ बोरियत से पूरा किया जाता है और उस काम में मजा नही है 

2. आलास भरी शुरुआत 

सुबह लेट उठने का एक मतलब आलस से भी उठना होता है | और आलसी आदमी अपने पुरे दिन में कभी भी अच्छा काम या कुछ नए सीखना का काम नही कर सकता है , वो जिन्दगी में कभी सक्सेस नही हो सकता है |  स्कूल के दिनों में स्टूडेंट को लेट उठने से रोकने के लिए सुबह 7 बजे के स्कूल होते है उनको सुबह 5-6 बजे उठने के लिए प्रेरित किया जाता है | 

3. समय की बर्बादी 

जो लोग समय को महत्वपूर्ण मानते है वो लोग हमेशा जल्दी उठते है और अपने जीवन का फ्यूचर सुधरने के लिए कार्य करते है जैसे की एक स्टूडेंट सुबह सुबह जल्दी उठकर पढाई करता है | एक किसान सुबह उठाकर अपने फसल को ध्यान रखना है उनमे जरुरत पड़ने पर पानी डालता है | दुनिया सो रही होती है पर कुछ लोग अपने जीवन को सुधारने के लिए कार्य करते रहते है 

इसके अलग काफी घर में लेट उठने के लिए मन मुटाव भी हो जाते है इसलिए हमको सुबह जल्दी ही उठाना चाहिए 

सुबह कितने बजे उठना चाहिए?

गर्मी में आपको 6 बजे और सर्दी में आपको 7-8 बजे तक उठ जाना चाहिए | आप चाहे तो इससे जल्दी भी उठ सकते है पर इससे लेट सोने का बहुत नुकसान है सूरज की उगने से पहेले आपको बिस्तर छोड़ देने चहिये  

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने